पश्चिमल बंगाल के कृष्णागंज सीट से टीएमसी विधायक सत्यजीत विश्वास की शनिवार को हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। FIR में बीजेपी नेता मुकुल रॉय का भी नाम है।

यह घटना शनिवार शाम उस वक्त हुई जब विधायक विश्वास नादिया में एक सरस्वती पूजा उद्घाटन समारोह में शिरकत कर रहे थे।

पश्चिम बंगाल के नादिया जिले में हुई टीएमसी विधायक सत्यजीत विश्वास की हत्या के मामले में पुलिस ने कार्रवाई की है। पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। इसके अलावा नादिया के हंसखाली पुलिस स्टेशन के प्रभारी को निलंबित कर दिया गया है। इससे पहले शनिवार को इस मामले में एफआईआर दर्ज कर मामले के जांच के आदेश दिए गए थे। खबरों के मुताबिक, एफआईआर में बीजेपी नेता मुकुल रॉय का भी नाम है।

कृष्णागंज सीट से टीएमसी विधायक सत्यजीत विश्वास की हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। यह घटना शनिवार शाम उस वक्त हुई जब विधायक विश्वास नदिया में एक सरस्वती पूजा उद्घाटन समारोह में शिरकत कर रहे थे।

पुलिस के अनुसार, नादिया के फूलबरी में एक सरस्वती पूजा के कार्यक्रम में शिरकत करने आए सत्यजीत विश्वास को बदमाशों ने उस वक्त गोली मारी जब वह स्टेज से नीचे उतर रहे थे। घटना के बाद उन्हें नजदीकी शक्तिनगर जिला अस्पताल ले जाया गया था, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। जानकारी के अनुसार, सत्यजीत विश्वास की हाल ही में शादी हुई थी।

टीएमसी ने अपने विधायक की मौत पर कड़ी प्रतिक्रिया दी थी। इस हत्या के लिए बीजेपी को जिम्मेदार ठहराया था। पार्टी ने ट्वटी कर कहा, “बीजेपी ने इलाके में तनाव पैदा करने की कोशिश की थी, और अब ये घटना सामने आई है।”

एक अन्य ट्वीट में तृणमूल कांग्रेस ने कहा, “जिन्होंने विधायक की हत्या की उन्हें बख्शा नहीं जाएगा। जो इस हत्या के लिए जिम्मेदार हैं वह अंजाम तक जरूर पहुंचेंगे। इस मौत के लिए बीजेपी जिम्मेदार है। इलाके में आतंक फैलाने वाले कुछ लोग हैं, जिन्होंने विधायक की हत्या की है।”

 

 


Powered by Aakar Associates Pvt Ltd