हिंदूवादी संगठन बजरंग दल और विश्व हिंदू परिषद ने हिंदूओं का त्योहार मकर संक्रांति और गणतंत्र दिवस पर एक पोस्टर के जरिए लोगों को शुभकामनाएं दी है।

लेकिन इन्होंने अपने इस पोस्टर में बुलंदशहर हिंसा के आरोपियों की तस्वीरें भी लगाई है।

टाइम्स नाउ के लिए उत्तर प्रदेश को कवर करने वाले पत्रकार प्रशांत कुमार ने एक पोस्टर को ट्वीट कर लिखा, बजरंग दल, वीएचपी अब मकर संक्रांति पर उन सभी लोगों की तस्वीर के साथ पोस्टर प्रकाशित करता है, जिन पर बुलंदशहर में हिंसा भड़काने का आरोप है। सिवाय, बजरंग दल के सह-संयोजक प्रवीण भाटी को छोड़ कर।

बता दें कि पिछले साल तीन दिसंबर को उत्तर प्रदेश में बुलंदशहर के स्याना में भड़की हिंसा के दौरान मारे गए इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की हत्या मामले में पुलिस ने कई लोगों को गिरफ्तार किया है। जिसमें एक आरोपी योगेश राज भी शामिल है, पुलिस ने योगेश राज को तीन जनवरी को गिरफ्तार किया था। बता दें कि योगेश राज बजरंग दल का जिला संयोजक है और हिंसा के बाद से फरार था।

हिंदूवादी संगठन बजरंग दल और विश्व हिंदू परिषद के द्वारा जारी किए गए इस पोस्टर में आप पोस्टर के नीचे बाईं ओर देख सकते है कि बजरंग दल का जिला संयोजक योगेश राज की तस्वीर लगी हुई है।

इस गिरफ्तारी के कुछ दिनों बाद पुलिस ने इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की हत्या मामले में शामिल मुख्य आरोपियों में से एक भारतीय जनता युवा मोर्चा के सदस्य शिखर अग्रवाल को गिरफ्तार किया था। शिखर के ऊपर हिंसा को भड़काने का आरोप है।

बता दें कि बुलंदशहर में हिंसा के दौरान इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की हत्या कर दी गई थी। गत तीन दिसंबर को स्याना कोतवाली क्षेत्र के चिंगरावठी इलाके में कथित गोकशी के मामले को लेकर भीड़ से संघर्ष में इंस्पेक्टर सुबोध सिंह शहीद हो गए थे। इसके अलावा सुमित नामक एक युवक की भी मृत्यु हो गई थी।