लोकसभा में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि यूपीए सरकार ने राफेल मामले में देश की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ किया है.

राफेल पर छह महीने में बहुत झूठ बोला गया. इसी दौरान सदन में जेटली के ठीक पीछे बैठे भाजपा सांसद अनुराग ठाकुर ने नारा लगाना शुरू किया कि मां बेटा चोर हैं.

लोकसभा में विभिन्न मुद्दों को लेकर कांग्रेस द्वारा किए गए हंगामे के बीच वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि देश की सुरक्षा के लिए राफेल विमान बेहद जरूरी था और इसकी खरीद के लिए सही प्रक्रिया के तहत ही डील की गई है. लेकिन यूपीए सरकार ने राफेल मामले में देश की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ किया है. राफेल पर छह महीने में बहुत झूठ बोला गया. जेटली ने कहा कि फ्रांस ने भी ओलांद के बयान को खारिज कर दिया.

इसी दौरान सदन में जेटली के ठीक पीछे बैठे भाजपा सांसद अनुराग ठाकुर ने नारा लगाना शुरू किया कि 'मां-बेटा चोर हैं.' उनके साथ सदन में मौजूद तमाम भाजपा सांसदों ने भी अनुराग ठाकुर के आवाज में आवाज मिलाकर यह नारा लगाया. इस बीच जेटली को अपना भाषण अल्प समय के लिए रोकना पड़ा. इस दौरान उन्होंने सांसद अनुराग की तरफ हाथ करके उन्हें चुप होने के लिए इशारा भी किया. इसके बाद ठाकुर शांत हुए और जेटली ने अपना भाषण आगे जारी रखा.

जेटली ने कहा कि देश की सबसे पुरानी पार्टी को राफेल विमान की जानकारी नहीं है. देश में कुछ परिवारों को सिर्फ पैसे का गणित समझ आता है. उनका देश की सुरक्षा से कोई मतलब नहीं रहा. इसके साथ ही जेटली ने बोफोर्स और नेशनल हेराल्ड केस का मुद्दा भी संसद में उठाया और कहा कि कांग्रेस इसमें भी साजिश रची थी. अब ये साजिशकर्ता हम पर आरोप लगा रहे हैं.

राफेल मामले में पूरी दाल काली, देश पूछ रहा है सवाल: राहुल

इधर, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल मामले को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर एक बार फिर निशाना साधा और कहा कि अब इस मामले में ‘पूरी दाल काली’ है तथा अब पूरा देश प्रधानमंत्री से सवाल पूछ रहा है कि किसके कहने पर राफेल का सौदा बदला गया. लोकसभा में राफेल मामले पर लोकसभा में चर्चा के दौरान उन्होंने दावा किया कि संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) की जांच से ही इस मामले में ‘दूध का दूध, पानी का पानी’ हो जाएगा.

गांधी ने गोवा के एक मंत्री की कथित बातचीत का ऑडियो प्ले करने की इजाजत मांगी, लेकिन लोकसभा अध्यक्ष ने ऑडियो अथवा इसके लिखित ब्योरे को पढ़ने की इजाजत देने से इनकार कर दिया. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि यह वीडियो झूठा है, इसलिए राहुल इसकी पुष्टि करने से मना कर रहे हैं. इस बीच, हंगामे के दौरान सदन की कार्यवाही पांच मिनट के लिए स्थगित कर दी गई.

गांधी ने कहा कि संप्रग सरकार के समय वायुसेना के कहने पर 126 राफेल विमान खरीदने की प्रक्रिया आगे बढ़ी थी, लेकिन प्रधानमंत्री ने नए सौदे में 36 विमान कर दी गई. उन्होंने सवाल किया कि प्रधानमंत्री बताएं कि किसके कहने पर यह किया गया, क्या वायुसेना ने यह कहा था? कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि इस मामले में दाल में कुछ काला नहीं, बल्कि पूरी दाल ही काली है. गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री से अब इस मामले में पूरा देश में सवाल पूछ रहा है. उन्होंने कहा कि भाजपा के लोग डरे नहीं, जेपीसी की जांच कराएं. दूध का दूध, पानी का पानी हो जाएगा.