नई दिल्ली । कर्नाटक में सेकंडरी स्कूल लर्निंग सर्टिफिकेट (SSLC) यानी 10वीं कक्षा की परीक्षाएं कोरोना संकट के बीच गुरुवार से शुरू हो गईं। लॉकडाउन में सोशल डिस्टेंसिंग जैसे कुछ एहितियात बरतने की हिदायत के साथ मिली छूट में यह परीक्षाएं हो रही हैं।

राज्यभर के स्कूलों/परीक्षा केंद्रों में सभी एहतियातन उपाय अपनाए गए हैं। परीक्षा केंद्रों पर सभी छात्रों की थर्मल स्कैनिंग हो रही है और उन्हें मास्क व हैंडसैनिटाइजर भी लगवाया जा रहा है।


संत जोसेफ कॉन्वेंट स्कूल की प्रिंसिपल सिस्टर सगैमिर ने बताया कि आज उनके स्कूल में 464 छात्र परीक्षा दे रहे हैं। एक क्लास में कुल 20 स्टूटेंड्स बैठाए गए हैं। जो छात्र कंटेनमेंट जोन से आ रहे हैं या जिनकी तबीयत नासाज है उनके लिए दो अलग क्लासरूम्स की व्यवस्था की गई है।

 

उन्होंने आगे बताया कि परीक्षा के दौरान सैनिटाइजर लगवाने, सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क सुनिश्चित करने के लिए वह  पिछले दो हफ्तों से काम कर रही थीं जिससे कि सबकुछ ठीक से हो सके। परीक्षाएं शुरू होने से पहले कई स्कूलों का निरक्षण भी किया गया है कि परीक्षा में किसी प्रकार की दिक्कत तो नहीं होगी।

 

राज्य में 25 जून से शुरू हो रही परीक्षाओं को लेकर राज्य के चिकित्सीय शिक्षा मंत्री डॉ के सुधाकर ने बुधवार को सीनियर अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फेरेंस हालात और परीक्षा की तैयारियों का जायजा लिया था।


कर्नाटक एसएसएलसी परीक्षा 2020 में इस साल 848203 छात्र भाग ले रहे हैँ। इस परीक्षा के लिए कुल 2879 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं।

 

 


Powered by Aakar Associates